दशकों तक जिस कार ने भारतीय बाज़ारों पर किया राज, उसकी एक बार फिर से एंट्री हो रही है

B Editor

सबसे क्लासिक भारतीय कारों में से एक, जो दशकों तक स्टेटस सिंबल बनी रही, हिंदुस्तान मोटर की एम्बेसडर अब जल्द ही एक नए अवतार में लॉन्च होने वाली है. बता दे की निर्माता द्वारा मार्किट में इस कार की मांग की कमी का हवाला देने के बाद 2014 में प्रतिष्ठित कार को बंद कर दिया गया था. अब, ऐसी उम्मीद की जा रही है की दो साल के अंदर एम्बेसडर 2.0 को भारत में लॉन्च किया जाएगा.

हिंद मोटर फाइनेंशियल कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया (HMFCI) ने इस क्लासिक कार को पुनर्जीवित करने के लिए फ्रांसीसी कार निर्माता Peugeot के साथ हाथ मिलाया है. संयुक्त उद्यम कथित तौर पर एंबेसडर 2.0 के डिजाइन और इंजन पर काम कर रहा है.

हो रही है दशकों तक राज करने वाली एम्बेसडर की वापसी, कुछ ऐसा होगा नया डिज़ाइन
नेक्स्ट जेनरेशन एंबेसडर का निर्माण हिंदुस्तान मोटर्स के चेन्नई प्लांट द्वारा किया जाएगा. यह एचएमएफसीआई के तहत काम कर रहा है जो सीके बिरला समूह की एक सहयोगी कंपनी है. नई कार पर काम करने के बारे में बात करते हुए, एचएम के निदेशक उत्तम बोस ने बताया कि वे ‘एंबी’ के नए रूप को सामने लाने के लिए काम कर रहे हैं. यह संकेत देते हुए कि कार आने वाले वर्षों में लॉन्च हो सकती है, निदेशक ने बताया कि कार पर यांत्रिक और डिजाइन का काम एक उन्नत चरण में पहुंच गया है.

दो साल के भीतर की जा सकती है लॉन्च
एचएम की एंबेसडर ब्रिटिश कार मॉरिस ऑक्सफोर्ड सीरीज III पर आधारित थी और इसे 1957 में वापस लॉन्च किया गया था. प्रतिष्ठित कार जल्द ही एक स्टेटस सिंबल के रूप में उभरी और दशकों तक सबसे ज्यादा बिकने वाली कार बनी रही. हालांकि, उत्पादन में 57 साल के बाद, हिंदुस्तान मोटर्स ने 2014 में कार का निर्माण बंद कर दिया।. संयंत्र बंद होने से पहले पश्चिम बंगाल के उत्तरपारा में एचएम कारखाने से आखिरी कार निकली. ऑटोमेकर कथित तौर पर भारी कर्ज से निपट रहा था और उसने एंबेसडर की मांग में गिरावट देखी थी.

2017 में, हिंदुस्तान मोटर्स ने प्यूज़ो के साथ एक सौदा किया और एम्बेसडर को फ्रांसीसी वाहन निर्माता को बेच दिया. सीके बिरला समूह ने एंबेसडर ब्रांड को 80 करोड़ रुपये में प्यूगोएट को बेच दिया, जो 1990 के दशक के मध्य में भारतीय बाजार में प्रवेश करने वाले पहले विदेशी वाहन निर्माताओं में से एक था.

Share This Article
Leave a comment