समुद्रशास्त्र के अनुसार ये आंखें पलकने से पूरी होती है सभी मनोकामनाएं, जानिए आंखों को पलकने का सही अर्थ

समुद्रशास्त्र के अनुसार ये आंखें पलकने से पूरी होती है सभी मनोकामनाएं, जानिए आंखों को पलकने का सही अर्थ

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार जब भी हमारी कोई आंख मुड़ती है तो हमारा शरीर हमें संकेत दे रहा होता है कि हम दोनों साथ-साथ शुभ या अशुभ होने वाले हैं। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार हमारे शरीर का हर गतिमान अंग हमें कुछ न कुछ संकेत देने की कोशिश करता है। जब आंख मुड़ती है, तो यह कुछ शुभ या अशुभ संकेत देती है।

स्त्री-पुरुष की दृष्टि से शुभ-अशुभ का पता चल जाता है। जी हां, शास्त्रों में स्त्री और पुरुष दोनों की आंखें फेरने का अर्थ अलग-अलग है। शुभ और अशुभ इस बात पर निर्भर करता है कि स्त्री या पुरुष की आंख किस ओर मुड़ रही है। आइए जानते हैं कि पुरुष और महिला की कौन सी आंखें उनके लिए शुभ होती हैं। तो आइए जानते हैं किस आई-रोल का मतलब होता है शुभ और किस आई-रोल का मतलब होता है अशुभ।

दाहिनी आंख का घूमना

समुद्रशास्त्र के अनुसार, पुरुषों के लिए दाहिनी आंख का घूमना शुभ माना जाता है जबकि महिलाओं के लिए बाईं आंख का घूमना शुभ माना जाता है।

बाईं आंख का घूमना
साथ ही अगर किसी महिला की बायीं पलक मुड़ जाए तो यह उसके लिए शुभ माना जाता है, लेकिन पुरुषों के लिए स्थिति बिल्कुल अलग हो जाती है। पुरुषों के लिए किसी पुराने शत्रु से लड़ाई हो सकती है या किसी से शत्रुता बढ़ सकती है।

बाईं आंख और निचली पलक

दाहिनी आंख और ऊपरी पलक को कान के पास या बाईं आंख को निचली पलक के पास मोड़ना शुभ समाचार का संकेत है।

दाहिनी पलक का घूमना
यदि किसी व्यक्ति की दाहिनी आंख की ऊपरी पलक मुड़ जाती है, तो ऐसा माना जाता है कि उसके मन की सभी इच्छाएं पूरी होती हैं और उसे पदोन्नति और धन लाभ होता है। लेकिन अगर किसी महिला की दाहिनी आंख की ऊपरी पलक मुड़ जाए तो यह उसके लिए अशुभ माना जाता है और उसके सारे काम खराब हो जाते हैं।

महिलाओं की दाहिनी आंख घूमने पर क्या करें?

महिलाओं के लिए दाहिनी आंख का घूमना शुभ नहीं माना जाता है। यदि किसी महिला की दाहिनी आंख लगातार घूम रही है, तो उसे पलक पर कागज का एक टुकड़ा या कागज का एक टुकड़ा रखना चाहिए। ताकि थोड़ी देर बाद आंख घूमना बंद कर दे, नर भी ऐसा ही कर सके।

वैज्ञानिक कारण
वैज्ञानिक भी मानते हैं कि आंखों के घूमने के पीछे कुछ और कारण होता है। आंखों के घूमने को “मायोकेमिया” कहा जाता है। वैज्ञानिकों के अनुसार चक्कर आना एक सामान्य लक्षण है। इससे आंखों के आसपास की मांसपेशियां सिकुड़ जाती हैं, जिससे थोड़ा भ्रम होता है, लेकिन नुकसान नहीं होता।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *