शास्त्रों के अनुसार जन्मदिन पर जरूर करें ये 5 काम, पाएंगे लंबी उम्र और सौभाग्य

शास्त्रों के अनुसार जन्मदिन पर जरूर करें ये 5 काम, पाएंगे लंबी उम्र और सौभाग्य

जन्मदिन मनाना हर किसी को पसंद होता है। हर साल लोग अपने जन्मदिन का बेसब्री से इंतजार करते हैं। फिर वह अपना जन्मदिन परिवार और दोस्तों के साथ बहुत धूमधाम से मनाते हैं। अपने जन्मदिन पर व्यक्ति सोचता है कि आने वाला साल बेहतर और खुशहाल होगा। उसके जीवन का दर्द कम होगा और भाग्य हमेशा उसके साथ रहेगा।

हमारे शास्त्रों में भी जन्मदिन को शुभ और लाभकारी बनाने के कुछ उपाय बताए गए हैं। यदि आप अपना जन्मदिन इन शास्त्र नियमों के आधार पर मनाते हैं, तो आपका आने वाला वर्ष सौभाग्य और स्वास्थ्य लेकर आएगा। इससे आपका पूरा साल बहुत खुशी से बीतता है। तो आइए जानते हैं कि आपको अपना जन्मदिन कैसे मनाना चाहिए।

wo . होने की बुद्ध मोमबत्ती

सनातन मान्यता के अनुसार जन्मदिन पर मोमबत्ती या दीया बजाना एक बड़ा शगुन माना जाता है। ऐसा करने से मनुष्य को नर्क के द्वार दिखाई देते हैं। आपके लिए यह उचित होगा कि आप मंदिर में अधिक से अधिक दीये जलाएं, चाहे आप कितने भी पुराने क्यों न हों, इतनी मोमबत्तियां जलाने के बजाय। इससे आपका आने वाला साल सकारात्मक रहेगा।

ये चीजें न खाएं
जन्मदिन पर गलती से भी मांस और मछली का सेवन नहीं करना चाहिए। इस दिन आप एक और साल जीने का जश्न मनाते हैं, जिसमें किसी अन्य जीवन को मारना या खाना उचित नहीं है, ऐसा करना पाप है। शास्त्रों के अनुसार आपको अपने जन्मदिन पर शराब का सेवन नहीं करना चाहिए। ऐसा माना जाता है कि आने वाला साल किसी के जन्मदिन पर शराब पीने या मांस खाने के कारण विवाद और बीमारी से घिरा रहेगा।

ऐसे नहाना
शास्त्रों के अनुसार जन्म के दिन गलती से भी गर्म पानी से स्नान नहीं करना चाहिए। इस क्रिया का आपके ग्रह पर विपरीत प्रभाव पड़ता है। इसलिए जन्मदिन के दिन प्रातः काल गंगाजल मिलाकर सादे जल से स्नान करना चाहिए। यह आपको पूर्ण रूप से पवित्र और पवित्र बनाता है।

इन लोगों का आशीर्वाद लेने के लिए

अपने जन्मदिन पर देवी-देवताओं, गुरुओं और माता-पिता का आशीर्वाद लेना न भूलें। उनके जन्मदिन पर उनके पैर छूकर आने वाला साल खुशियों से भरा हो और आपका भाग्य भी आपका साथ देता है।

दान करने के लिए

जन्म दिन पर धर्म का विशेष महत्व माना जाता है। इसलिए इस दिन किसी मंदिर में दान करना चाहिए। इसके अलावा आप किसी गरीब या जरूरतमंद की भी मदद कर सकते हैं। ऐसा करने से देवता प्रसन्न होते हैं और मनचाहा फल मिलता है।

इन लोगों का अपमान नहीं करने के लिए
जन्मदिन पर गलती से भी किसी का अपमान नहीं करना चाहिए। फिर उसका अपमान नहीं करना चाहिए चाहे वह आपका मित्र, संबंधी, बच्चा या शत्रु ही क्यों न हो। इस दिन इन सबका अच्छे से व्यवहार करना चाहिए। शनिदेव नाराज हो जाते हैं खासकर जब वह किसी गरीब या असहाय व्यक्ति को उसके जन्मदिन पर परेशानी देते हैं। कारण यह है कि शनिदेव उनका प्रतिनिधित्व करते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *