कलियुग के बाद कैसा होगा सतयुग, कलियुग के कितने वर्ष शेष हैं?

कलियुग के बाद कैसा होगा सतयुग, कलियुग के कितने वर्ष शेष हैं?

वर्तमान समय में जो युग चल रहा है वह कलियुग है। जिसमें मानव जाति का मन असन्तोष से भरा है। इस युग में, सभी लोग मानसिक रूप से कमजोर होंगे और धर्म कम से कम हो जाएगा। आज हमारे पुराणों में लिखी बातें सच होती दिख रही हैं। आज हम अहंकार, प्रतिशोध, लोभ से घिरे हुए हैं। शिव पुराण के अनुसार कलियुग में मानव जाति के लिए एक श्राप है।

आपको बता दें कि वर्तमान समय में धर्म शास्त्रों के अनुसार इस युग के परिवर्तन का 9वां चरण चल रहा है। जैसे-जैसे समय बीतता है, जो जीवित है वह एक दिन शरीर छोड़ देगा। जैसे हर चीज अपना रूप बदलती है, वैसे ही समय समय पर अपना रूप बदलता रहता है।

जब एक बार एक भक्त ने भगवान विष्णु से पूछा कि वर्तमान में द्वापरयुग चल रहा है, लेकिन फिर कलियुग क्या होगा? तो भगवान विष्णु ने उनकी जिज्ञासा को ध्यान में रखते हुए कहा, “जब दुनिया में पाप बढ़ जाता है और मानवता का अंत होता दिखाई देता है, तो समझो कलयुग शुरू हो गया है।”

भगवान विष्णु ने आगे कहा कि कलियुग की शुरुआत कलियुग के “स्त्री के बालों” से होगी। क्योंकि महिलाओं के बाल किसी आभूषण से कम नहीं होते हैं। कलियुग में महिलाएं अपने बाल कटवाएंगी और पुरुष और महिला दोनों अपने बालों को अलग-अलग रंगों से रंगेंगे। छोटे बालों के साथ फैशन रखा जाएगा। पुरुष और महिला दोनों ही अपने बालों को अलग-अलग डिजाइन और अलग-अलग तरीकों से कटवाएंगे। जब घर में पति-पत्नी या सामूहिक झगड़ा होता है, तो यह समझना चाहिए कि कलियुग शुरू हो गया है।

पुराणों में क्षेत्र से कलावधि का उल्लेख मिलता है। उनके अनुसार हमारे पूर्वजों का एक दिन और एक रात मनुष्य के एक महीने के बराबर होगा। इसके अलावा, देवताओं का एक दिन और एक रात मनुष्य के एक वर्ष के बराबर होंगे। इस प्रकार देवताओं का एक मास मनुष्य के 60 वर्ष के बराबर और देवताओं का एक वर्ष मनुष्य के 60 वर्ष के बराबर होता है। पुराणों के अनुसार कलियुग 2,8,000 वर्ष पुराना है, जिसमें से अभी 2,8,000 वर्ष शेष हैं। जैसे-जैसे कलियुग का अंत निकट आएगा, मानव जाति का अंत अपने आप शुरू हो जाएगा। लोग एक-दूसरे से नफरत करने लगेंगे और एक-दूसरे को मारने के लिए पागल हो जाएंगे। कलियुग के अंत तक एक व्यक्ति केवल 12 वर्ष जीवित रहेगा और उसकी ऊंचाई केवल 3 इंच होगी।

कलियुग का अंत कैसे होगा?

पुराणों और श्रीमद्भागवत के अनुसार कलियुग का वर्णन है और कहा जाता है कि कलियुग में भगवान कल्कि अवतार लेकर असत्यों का नाश कर पापियों का वध कर सतयुग की पुन: स्थापना करेंगे।

कितने साल बाद सब कुछ बदल जाएगा
पुराणों में दिए गए विवरण के अनुसार कलियुग 2,8,000 वर्ष पुराना है, जबकि कलयुग अभी केवल 2,12 वर्ष पुराना है। अभी भी 4, 5, 6 साल बाकी हैं।

कलियुग के बाद कैसा होगा सतयुग?

सतयुग की अवधि 18,6000 वर्ष होगी। इस युग में मनुष्य की आयु 5,000 से 10,000 वर्ष होगी। धरती पर फिर से धर्म की स्थापना होगी। मनुष्य भौतिक सुख के बजाय मानसिक सुख पर ध्यान देगा। इंसानों के लिए एक-दूसरे से नफरत करने की कोई जगह नहीं होगी, चारों तरफ सिर्फ प्यार होगा।

मनुष्य परम ज्ञान प्राप्त करेगा। लोग पूजा और कर्मकांड में विश्वास करेंगे। सतयुग में मनुष्य अपनी गर्मजोशी के माध्यम से ईश्वर से संवाद कर सकेगा। इस उम्र में लोगों का अपने शरीर पर पूरा नियंत्रण होगा। आत्मा के परमात्मा से फिर से जुड़कर सभी प्रसन्न होंगे। अर्थात् सतयुग को इस संसार का “स्वर्ण युग” कहा जाता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *