Indian IT Sector की 2023-24 में 7.1% की वृद्धि की भविष्यवाणी : NASSCOM

admin

Indian IT Sector: निरंतर वृद्धि के लिए, NASSCOM की भविष्यवाणी

भारत के आईटी क्षेत्र में वृद्धि की उम्मीद है, NASSCOM ने 2023-24 में 7.1% की वृद्धि का अनुमान लगाया है। इस अद्यतित सूचना के अनुसार, भारतीय आईटी उद्योग की व्यापक दृष्टि से इसमें वृद्धि के कई कारक हैं।

 Indian IT Sector की वृद्धि के प्रमुख कारक:

  • डिजिटल परिवर्तन की मांग: डिजिटल परिवर्तन के क्षेत्र में बढ़ती मांग ने आईटी क्षेत्र में निवेश को बढ़ावा दिया है।
  • क्लाउड कंप्यूटिंग और डेटा एनालिटिक्स: इन तकनीकी क्षेत्रों में निवेश में वृद्धि, जो की भारतीय कंपनियों को वैश्विक स्तर पर अग्रणी बनाती है।
  • वैश्विक प्रतिस्पर्धात्मकता: भारतीय आईटी कंपनियों की वैश्विक स्तर पर बढ़ती प्रतिस्पर्धात्मकता, जो की उन्हें आने वाले वर्षों में और बढ़ाएगी।

Indian IT Sector

 Indian IT Sector : चुनोतिया

NASSCOM के अनुसार, भारतीय आईटी उद्योग को कुछ चुनौतियों का सामना करना पड़ रहा है:

  • कौशल की कमी: आईटी क्षेत्र में कौशल की कमी, जिसे सुलझाने के लिए सकारात्मक कदमों की आवश्यकता है।
  • वैश्विक आर्थिक अनिश्चितता: अंतरराष्ट्रीय बाजारों में अनिश्चितता के कारण, जिसपर बढ़ती प्रतिस्पर्धा का असर हो सकता है।

 Indian IT Sector : NASSCOM की भविष्यवाणी

NASSCOM ने व्यापक दृष्टि से इस सेक्टर के भविष्य को आशावादी दृष्टि से देखा है और उम्मीद है कि भारत वैश्विक आईटी बाजार में अग्रणी भूमिका निभाएगा। उनकी अनुमानित आंकड़ों के अनुसार, 2025 तक भारतीय आईटी उद्योग का आकार 350 बिलियन डॉलर हो सकता है।

 

भारतीय आईटी क्षेत्र में 2023-24 में तेजी से विकास की उम्मीद है। राष्ट्रीय सूचना प्रौद्योगिकी और सॉफ्टवेयर विकास परिषद (एनएसएसकॉम) ने अनुमान लगाया है कि भारतीय आईटी-बीपीएस उद्योग 2023-24 में 16.6 खरब रुपये (22.5 बिलियन डॉलर) तक पहुंच जाएगा, जो पिछले वित्त वर्ष की तुलना में 12.5% अधिक है।

एनएसएसकॉम ने कहा कि भारतीय आईटी क्षेत्र को निम्नलिखित कारकों से बढ़ावा मिलेगा:

  • विश्व स्तर पर डिजिटलीकरण और प्रौद्योगिकी का बढ़ता उपयोग
  • भारत में आईटी कौशल में वृद्धि
  • सरकार की आईटी क्षेत्र को बढ़ावा देने की नीतियां

एनएसएसकॉम ने कहा कि भारतीय आईटी क्षेत्र में रोजगार के अवसर भी बढ़ेंगे। 2023-24 में, आईटी-बीपीएस क्षेत्र में 1.2 मिलियन से अधिक नए रोजगार सृजित होने की उम्मीद है।

Indian IT Sector

Indian IT Sector :भविष्य की उम्मीदें

भारतीय आईटी उद्योग ने पिछले कुछ वर्षों में बड़ी सफलता हासिल की है, और इसमें बड़ी उपलब्धियां हुई हैं। भारत दुनिया के सबसे बड़े आईटी टैलेंट पूल के रूप में उभर रहा है, जिससे भारतीय आईटी कंपनियां वैश्विक बाजार में अपनी उपस्थिति मजबूत कर रही हैं।

Bigg Boss 17 डेली अपडेट्स: 12 दिसंबर 2023, आज का एपिसोड: Today’s episode: Awaiting exciting twist and new task

भारतीय आईटी उद्योग का भविष्य उज्ज्वल है, और उन्हें डिजिटल परिवर्तन के साथ चुनौतियों का सामना करने की तैयारी है। सरकार की डिजिटल इंडिया पहल से भी उन्हें समर्थन प्राप्त होगा, जो भारत को एक डिजिटल सशक्त समाज बनाने में मदद करेगा।

भारत में आईटी क्षेत्र का विकास तेजी से हो रहा है और यह दुनिया के प्रमुख आईटी हबों में से एक बन रहा है। भारतीय आईटी कंपनियां अपने कौशल और नवाचार के लिए दुनिया भर में जानी जाती हैं।

भारतीय आईटी क्षेत्र के भविष्य की उम्मीदों में निम्नलिखित शामिल हैं:

  • कौशल विकास: भारत में आईटी कौशल में तेजी से वृद्धि हो रही है। सरकार और उद्योग दोनों आईटी कौशल विकास को बढ़ावा देने के लिए काम कर रहे हैं।
  • नवाचार: भारतीय आईटी कंपनियां नए उत्पादों और सेवाओं के विकास के लिए लगातार काम कर रही हैं। भारत में आईटी नवाचार के लिए एक मजबूत पारिस्थितिकी तंत्र है।
  • अंतरराष्ट्रीय बाजार: भारतीय आईटी कंपनियां वैश्विक बाजारों में अपनी उपस्थिति बढ़ा रही हैं। भारत एक आकर्षक आईटी गंतव्य के रूप में उभर रहा है।

कुल मिलाकर, भारतीय आईटी क्षेत्र को भविष्य में मजबूत विकास की संभावना है।

IPO: TATA Tech जैसा Extraordinary IPO या High-Voltage 360-Degree खतरा? 🔢🚀🤔 Motisons Jewellers की असली कहानी! 💎

Share This Article
Leave a comment