आस्‍ट्रेलिया की विक्‍टोरिया ने बक्‍सर के जय प्रकाश यादव के साथ लिए फेरे, शादी देखने को जुटा पूरा गांव

B Editor

बक्‍सर निवासी जय प्रकाश यादव और मेलबर्न-ऑस्‍ट्रेलिया-की रहने वाली विक्‍टोरिया की प्रेम कहानी बताने जा रहे है. जय प्रकाश उच्‍चतर शिक्षा ग्रहण करने के लिए ऑस्‍ट्रेलिया गए थे, जहां उन्‍हें मेलबर्न के जीलोंग की रहने वाली विक्‍टोरिया से दोस्‍ती हो गई. यहदोस्‍तीकबप्‍यारमें बदल गया, यह बात दोनों को भी पता नहीं चला. उन दोनों का जब अलग-अलग रहना मुश्किल हो गया तो उन्‍होंने शादी करने का फैसला कर लिया. दोनों ने अपने-अपने परिवार से इसकी सहमति ली औरविवाहके पवित्र बंधन में बंध गए.

जय प्रकाशयादवने विक्‍टोरिया से बक्‍सर के ही एक मैरिज हॉल में पारंपरिक हिंदू रीति-रिवाज से शादी कर ली. इस तरह गोरी मैम ने बिहारी छोरे को अपना जीवनसाथी बना लिया. शादी से दोनों पक्षों के लोग बेहद खुश हैं. अब इसकी चर्चा पूरे इलाके में होने लगी है.

जय प्रकाश यादव बिहार के बक्सर जिले के इटाही प्रखंड के कुकुढ़ा गांव के रहने वाले हैं. वहीं, उनकी दुल्‍हन विक्‍टोरिया ऑस्‍ट्रेलिया के जिलोंग की निवासी हैं. पढ़ाई के दौरान ही व‍िक्‍टोरिया जय प्रकाश को अपना दिल दे बैठी थीं. जय प्रकाश यादव के पिता नंदलाल सिंह यादव बक्सर के कुकुढा पंचायत के मुखिया रह चुके हैं.

नंदलाल सिंह यादव के बड़े बेटे जय प्रकाश यादव ऑस्ट्रेलिया में अपनी पढाई पूरी करने के बाद नौकरी कर रहे हैं. साल 2019 से 2021 तक जय प्रकाश ने ऑस्ट्रेलिया में रहकर पढ़ाई की. फिलहाल वह MS सिविल इंजीनियर के पद पर कार्यरत हैं. पढ़ाई के दौरान ही उन्‍हें विक्टोरिया से प्यार हो गया था. शादी के मोके पर विक्टोरिया के साथ-साथ उनके पिता स्टीवन टॉकेट और मां अमेंटा टॉकेट भी बिहार पहुंचे थे.

बिहारी कल्चर को लेकर विक्टोरिया के पिता ने कहा कि मुझे यहां की संस्‍कृति को देखकर काफ़ी खुशी हुई. स्‍टीवन टॉकेट बेटी के हाथों में मेहंदी देखकर काफी खुश हुए. पिता होने के नाते कन्यादान की रस्म के लिए पैरों में महावर लगाने पर उनसे सवाल किया गया तो उन्होंने कहा कि उन्‍हें काफी अच्छा लगा.स्‍टीवन बिहार के इटाही में बेटी के ससुराल आकर काफी खुश हैं.उन्‍होंने उम्मीद जताई कि उनकी बेटी बिहारी दामाद के साथ काफी खुश रहेगी.

Share This Article
Leave a comment