चाणक्य नीति: सुबह उठकर गलती से न करें ऐसा, नहीं तो जीवन भर पछताना पड़ेगा

चाणक्य नीति: सुबह उठकर गलती से न करें ऐसा, नहीं तो जीवन भर पछताना पड़ेगा

आचार्य चाणक्य पाटलिपुत्र के महान विद्वान थे। चाणक्य अपने न्यायपूर्ण आचरण के लिए जाने जाते हैं। इतने बड़े साम्राज्य का मंत्री होते हुए भी वे एक मामूली सी झोपड़ी में रहते थे। उनका जीवन बहुत ही सरल और सीधा था। चाणक्य ने अपने जीवन में प्राप्त अनुभवों को अपनी चाणक्य नीति में स्थान दिया है। चाणक्य नीति कुछ ऐसी बातें बताती है जिन पर अमल करने से उसे सफलता मिलती है और उसे सफल होने से कोई नहीं रोक सकता।

शास्त्र कहते हैं कि अगर आपके दिन की शुरुआत अच्छी हो तो पूरा दिन बहुत अच्छा बीतता है। लेकिन अगर आप सुबह उठकर कुछ गलत देखते हैं तो पूरा दिन खराब हो जाता है। तब लगता है कि यह दिन जितनी जल्दी बीत जाए उतना अच्छा है। लोगों की जिंदगी में कई चीजें ऐसी होती हैं जिन्हें वो नजर अंदाज कर देते हैं। वह इस बात से अनजान है कि ये चीजें किसी न किसी तरह से किसी के जीवन को प्रभावित करती हैं।

चाणक्य की किताब चाणक्य नीति में कुछ ऐसी बातें बताती है जो सुबह के समय बिल्कुल नहीं करनी चाहिए। अगर आप ये काम करते हैं तो आपका पूरा दिन खराब हो जाएगा। क्या है वो चीजें हम आपको बताएंगे।

आईने में देख रहे हैं

कुछ लोग सुबह उठकर आईने में देखते हैं, लेकिन शास्त्रों के अनुसार उन्हें सुबह उठकर आईने में बिल्कुल भी नहीं देखना चाहिए। सुबह उठकर शीशा देखना अशुभ माना जाता है। उसका पूरा दिन खराब हो जाता है। इसलिए कोशिश करें कि सुबह न उठें और तुरंत आईने में देखें। हो सके तो बिस्तर पर सोते हुए पूरे दिन की योजना बनाएं।

जानवरों की लड़ाई देखना

अगर आप सुबह उठकर किसी बंदर या कुत्ते को लड़ते हुए देखें तो समझ लें कि आपका पूरा दिन बर्बाद हो गया है। सुबह बंदर और कुत्ते को लड़ते हुए देखना अशुभ माना जाता है। यदि आप ऐसा करते हैं, तो आप अपने आप को किसी बड़े संकट के लिए आमंत्रित करते हैं। अब से आप जब भी ऐसा कुछ देखें तो तुरंत उससे दूर हो जाएं।

किसी और का चेहरा देखो

सुबह उठकर आईने के अलावा किसी और का चेहरा न देखें, क्योंकि पता नहीं कब किसी का चेहरा आपके लिए अशुभ हो जाए। इसलिए हमेशा दिन की शुरुआत इष्टदेव का ध्यान करके ही करनी चाहिए। सुबह उठकर भगवान के दर्शन करना चाहिए। ऐसा करने से आपके अंदर सकारात्मक ऊर्जा का संचार होता है और आपका दिन अच्छा जाता है।

जानवर या गांव का नाम बताएं

कहा जाता है कि सुबह नाश्ते से पहले किसी जानवर या गांव का नाम नहीं लेना चाहिए, नहीं तो आपका पूरा दिन खराब हो जाएगा. इसलिए सुबह उठकर किसी जानवर या गांव का नाम नहीं लेना चाहिए। शास्त्रों के अनुसार व्यक्ति के लिए सुबह उठकर अपनी हथेली को जोड़कर देखना शुभ होता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *